Uncategorized
mrnikhilbishnoi@gmail.com

राजस्थान की नदियां

आंतरिक प्रवाह की नदियाँ – घग्घर, कांतली, काकनी, साबी, मेंथा, रूपनगढ़, रूपारेल, सागरमती आदि ।अरब सागर की नदियाँ – लूणी, माही, सोम, जाखम, साबरमती, पश्चिमी बनास, सूकडी, जवाई, जोजडी, मीठडी आदि ।बंगाल की खाडी की नदियाँ – चम्बल, बनास, कोठारी, कालीसिंध, बाणगंगा, पार्वती, परवन, बामनी, चाखन, गंभीरी, कुनु, मेज, मांशी, खारी आदि । राजस्थान में नदियों का अपवाह

Read More »
Uncategorized
mrnikhilbishnoi@gmail.com

जानिए पंचशील समझौता क्या है |

जानिए पंचशील समझौता क्या है | मानव कल्याण तथा विश्वशांति के आदर्शों की स्थापना के लिए विभिन्न राजनीतिक, सामाजिक तथा आर्थिक व्यवस्था वाले देशों में पारस्परिक सहयोग के पाँच आधारभूत सिद्धांत, जिन्हें पंचसूत्र अथवा पंचशील कहते हैं। इसके अंतर्गत ये पाँच सिद्धांत निहित हैं- (1) एक दूसरे की प्रादेशिक अखंडता और प्रभुसत्ता का सम्मान करना (2) एक

Read More »
Scroll to Top